IMG-20211009-WA0003-removebg-preview-1.png

GEEKEN CHEMICALS :- गेहूं की बुवाई के बाद अब समय है फसल के ग्रोथ का , जिसके लिए किसान अलग – अलग तरह के चीजों को अपनाकर अपने फसल का ग्रोथ कर रहे है। भारत के अलावा अन्य कई देशों में भी इसकी खेती काफी तेजी से की जा रही है। अगर हम धान की खेती की बात करें तो , इसकी खेती केवल एशिया में ही की जाती है। इसलिए गेहूं की खेती अलग – अलग देश के किसानों के लिए भी काफी फायदे का सौदा है। हमारे देश के अलावा अन्य देश के किसान भी गेहूं की अच्छी पैदावार पाने के लिए लगातार कैमिकल का प्रयोग कर रहे है। आज के समय में वैज्ञानिक तरीके से खेती की जाती है, ऐसे में आज हम आपको यह बताने वाले है की गेहूं का अच्छा उत्पाद कैसे प्राप्त किया जा सकता है।

आप यह ब्लॉग GEEKEN CHEMICALS के द्वारा पढ़ रहे है। हम आपके लिए अलग – अलग तरह का रासायनिक कैमिकल बनाते है ऐसे में आप अपने फसलों के ग्रोथ के लिए हमारे द्वारा बनाए हुए रासायनिक कैमिकल का प्रयोग कर सकते है। आज के समय में GEEKEN CHEMICALS भारत में सबसे अच्छी कीटनाशक बनाने वाली कंपनी बन गयी है। दस लाख से भी ज्यादा किसान अपना भरोसा GEEKEN CHEMICALS पर जता रहे है।

Contents

क्यों है अच्छी फसल की जरूरत

किसान भाइयों आज के समय में जमीन का दायरा सिकुड़ता जा रहा है , ऐसे में हमें काम जमीन में अधिक उत्पादन की जरूरत है। हमारे देश की आबादी भी लगातार बढ़ती जा रही है ऐसे में हमें भोजन के लिए दिक्क्त न हो हम अधिक उत्पादन करना चाहते है। आज के समय में गेहूं से कई अन्य तरह की चीजों को बनाते है , जिससे हमारा ग्रोथ अच्छे से हो सके। जैसे – जैसे लोगों की जरूरत बढ़ेगी वैसे ही लोगों की मांग भी तेजी से बढ़ने लगती है। ऐसे में चाहिए की कम खर्च में अच्छा उत्पादन किया जाए। अगर हम गेहूं की खेती करने वाले किसान भाइयों की मानें तो , इसकी खेती के लिए काफी ज्यादा मेहनत की जरूरत पड़ती है ऐसे में इसकी खेती करने से पहले अच्छे से इसके बारे में जानकारी रखना जरुरी है। आइये देखते है कि गेहूं की खेती में अधिक उत्पादन प्राप्त करने के लिए आप कौन – कौन से रासायनिक कीटनाशक का प्रयोग कर सकते है।

बुआई के समय करें ये उपाय

गेहूं की अच्छी फसल के लिए हमें भूमि का चुनाव अच्छे से करना चाहिए। इसके लिए किसान सबसे पहले मृदा परीक्षण और सॉइल टेस्टिंग भी कर सकते है। परिक्षण के बाद आप कृषि वैज्ञानिक से इसके बारे में अच्छे से सलाह ले सकते है। किसान भाइयों को गेहूं की अच्छी खेती के लिए खरपतवार को खत्म करना जरुरी है। इसके लिए आप पहले वाली फसल को मिट्टी में मिला सकते है , जिसके लिए आपको अच्छे से जुताई करनी होगी। किसान भाइयों अगर आप अच्छे तरह से लाभ चाहते है तो जुताई से पहले खेत में गोबर के खाद का छिड़काव कर दें। गोबर के खाद को डालने से फसल में रोग का प्रकोप कम होता है और पौधों में वृद्धि भी ज्यादा होती है ऐसे में किसान को 20 -30 ट्रैक्टर गोबर पहले से तैयार रखना है।

अगर गेहूं की बुवाई करते समय जमीन में नमी नहीं है तो नमी बनाए रखने के लिए जुताई के बाद आप पाटा चला सकते है। गेहूं की खेती के लिए खेत की मिट्टी भुरभुरी होनी चाहिए। गेहूं की खेती करते समय हम मिट्टी को तब तैयार मानते है जब खेत की गीली मिट्टी को ऊपर से लड्डू बनाकर छोड़ा जाएँ और वह टूटे नहीं। किसान इस तरीके को अपनाकर खेत की मिट्टी की जाँच कर सकते है।

यह भी पढ़ें :- धनिया की खेती कैसे करते है , यहां जानिए धनिया की खेती करने का तरीका

सही तरीके से करें सिंचाई के समय का निर्धारण :-

किसान भाइयों बुवाई के बाद अगर फसल में किसी चीज का सबसे ज्यादा योगदान है वह है सिंचाई का, अगर आप सही तरीके से सिंचाई करते है तो अपने उत्पादन को बढ़ा सकते है। किसान भाइयों बुवाई के बाद हम 20 -25 दिन के बाद सिंचाई कर सकते है उसके बाद फसल को जब भी जरूरत हो सिंचाई करते रहना चाहिए। अगर हम गेहूं के पौधे की दूसरी सिंचाई की बात करें तो इसकी दूसरी सिंचाई 50 -60 दिनों के भीतर की जाती है। किसान भाइयों आपको सिंचाई करते हुए कई चीजों को ध्यान रखना चाहिए। कभी भी फसल को आवश्यकता से ज्यादा पानी न दें , अगर फसल में पानी की मात्रा ज्यादा हो जाये तो पानी को निकालकर दूसरे खेत में डाल देना चाहिए। गेहूं की फसल को 5 -6 सिंचाई की जरूरत पड़ती है ऐसे में जब मिट्टी को नमी की जरूरत हो तब इसकी सिंचाई करनी चाहिए। गेहूं की फसल को हम साढ़े चार माह का मानते है ऐसे में जब भी फसल में बदलाव दिखने लगे सिंचाई कर देना चाहिए।

नीचे हम आपको बता रहे है कि कब – कब हमें सिंचाई करनी चाहिए ;

गेहूं के फसल की पहली सिंचाई 20 से 25 दिन बाद करनी चाहिए।

दूसरी सिंचाई हमें 40 -50 दिन के बाद करनी चाहिए।

गेहूं के फसल की तीसरी सिंचाई 60 -70 दिन के बाद करनी चाहिए।

गेहूं के फसल की चौथी सिंचाई फूल आने के बाद 80 -90 दिन के बाद करनी चाहिए।

पांचवी सिंचाई बोने के 100-120 दिन बाद करनी चाहिए , जिससे फसलों का ग्रोथ अच्छे से हो सके।

किसान भाई जब भी आप अपने फसलों की सिंचाई करे तो फसलों को परखें क्योंकि इसके बाद आप कई तरह के कैमिकल को छिड़काव करके इसके खरपतवार को खत्म कर सकते है।

उर्वरकों का इस्तेमाल का फैसला ऐसे करें

किसान भाइयों हमें गेहूं में खाद डालने की जरूरत दूसरी सिंचाई के बाद पड़ती है आप रासायनिक खाद को डालने के बाद अपने फसल की सुरक्षा करें। खाद डालने के बारे में जानकारी किसी कृषि एक्सपर्ट से लेनी चाहिए , जिससे खाद का छिड़काव सामान तरीके से हो सके। इसके अलावा खाद को भूमि परिक्षण के बाद ही डालना चाहिए , जिससे खेत की निगरानी अच्छे से हो सके।

खाद सिंचाई से पहले या बाद में डाली जाए?

किसान भाइयों आज के समय में यह समस्या होती है कि हमें खाद का प्रयोग सिंचाई से पहले करना चाहिए या सिंचाई के बाद में और खाद की कितनी मात्रा का प्रयोग करना चाहिए ? ऐसे में हम आपको बता दें कि सिंचाई के बाद ही हमें खाद का प्रयोग करना चाहिए। कई बार किसान भाइयों की यह शिकायत आने लगती है खेत की मिट्टी अगर दलदली है तो क्या इस समय खाद का प्रयोग किया जा सकती है। ऐसे में किसान भाइयों को इसका फैसला खुद से लेना चाहिए।

अगर खेत दलदली है और सिंचाई के बाद पैर धंस रहे है तो आपको कुछ दिनों तक पानी सूखने का इंतजार करना चाहिए। जब खेत का पानी पूरी तरह से सुख जाये तब आप खाद का प्रयोग कर सकते है। इसके लिए आपको यह ध्यान रखना होगा की सिंचाई करने के कम से कम दो दिन के बाद खाद डाल दें। अगर यह संभव नहीं है तो सिंचाई से 24 घंटे के पहले खाद डाल देनी चाहिए और उसके बाद सिंचाई करनी चाहिए। अगर आप यह तरीका अपनाते है तो आपको लाभ अवश्य मिलेगा अन्यथा नहीं।

इस कैमिकल के प्रयोग से होगी ज्यादा पैदावार :-

किसान भाइयों वैसे तो बहुत से कैमिकल हमारे बाजारों में बिक रहा है लेकिन इनसे हमारी फसलों को नुकसान कितना पहुँचता है शायद इसका अंदाजा भी आपको नहीं होगा। ऐसे में आपको गेहूं की फसल के ग्रोथ के लिए GEEKEN CHEMICALS के द्वारा बने Narachi कैमिकल का प्रयोग करना चाहिए , जिससे कम समय में अधिक उत्पादन प्राप्त किया जा सके।

यह भी पढ़ें :- ऐसे करें पालक की खेती मेहनत कम कमाई होगी ज्यादा

निष्कर्ष :-

आज के इस ब्लॉग में हमने गेहूं की फसल में ग्रोथ के लिए क्या करें इसके बारे में जानकारी हांसिल की। आशा है कि किसान भाइयों को हमारा यह ब्लॉग पसंद आया होगा इसलिए आप हमारे इस ब्लॉग को अपने सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते है। आज के समय में खेती करना काफी आसान हो गया है ऐसे में किसान अलग – अलग तरीके से अपने फसल का उत्पादन और अच्छा कर सकते है। किसान भाइयों अगर आप हमारे कैमिकल को खरीदना चाहते है तो कॉल (+91 -9999570297) करें।