IMG-20211009-WA0003-removebg-preview-1.png

गन्ना भारत के प्रमुख फसलों में से एक है।  गन्ने से हम सभी चीनी , गुड़ , और कई तरह के खाद्य चीजों को बनाते है।  लेकिन पिछले कुछ समय से इसके पैदावार में गिरावट देखने को मिल रही है , जिसका प्रमुख कारण इसमें लगने वाला लाल सड़न रोग है।  वैसे तो गन्ने में कई तरह के रोग पाए जाते है लेकिन पिछले कुछ समय से गन्ने में लाल सड़न रोग का प्रकोप ज्यादा देखने को मिल रहा है।  जो गन्ने की फसल के लिए बहुत ही हानिकारक है।  आइये आज के ब्लॉग में हम आपको गन्ने के फसल में लगने वाले लाल सड़न रोग के बारें में बताते है , जानिए कैसे फैलता है लाल सड़न रोग और क्या है इसका उपचार।

आप यह आर्टिकल GEEKEN CHEMICALS के द्वारा पढ़ रहें है।  हम भारत के किसानों के लिए अच्छी गुणवत्ता के रासायनिक केमिकल बनाकर फसल सुरक्षा उत्पादों की सर्वोच्च गुणवत्ता प्रदान करती है। हम भारत के सभी राज्यों में अपने कीटनाशक के प्रयोग से किसानों की फसल को अत्यधिक उपजाऊ बनाते है। आप हमारे कीटनाशक को अपने नजदीकी स्टोर पर जाकर आसानी से खरीद सकते है।

और पढ़े-: किसान कैसे बना सकते है मिट्टी को उपजाऊ जानिए यहाँ सबसे सरल तरीका

Contents

 क्या है लाल सड़न रोग 

लाल सड़न रोग को हम रेड रॉट भी कहते है।  इसे अगर गन्ने का कैंसर कहा जाये तो गलत नहीं होगा। लाल सड़न रोग रोग का प्रकोप सितंबर महीने में ज्यादा देखने को मिलता है।  गन्ने की फसल को अत्यधिक उपजाऊ बनाने के लिए हमें इस रोग को जल्द से जल्द खत्म करना चाहिए।  नहीं तो यह रोग जितना अधिक फैलता है फसल को उतनी ही ज्यादा नुकसान पहुँचता है।  अगर इस रोग की बात करें तो यह कोलेलेटोट्राचिम फाल्केटमनामक फफूंद से फैलता है।  इसके कारण गन्ने का विकास रुक जाता है और पौधा बड़ा होने से पहले ही सूखनें लगता है।  यह पत्तियों में बनने वाले भोजन और मिट्टी से पानी के साथ अलग – अलग तरीके के खनिजों को लानें का काम करता है। इससे प्रभावित गन्ने की पत्तियाँ पीली पड़ जाती है और कुछ समय के बाद पूरी फसल सुख जाती है।  जिसकी वजह से किसान भाइयों को बहुत दिक़्क़तों का सामना करना पड़ता है।

किसान अक्सर सही तरीके से अगर गन्ने के बीजों का चुनाव नहीं करते है , तभी यह बीमारी दिखाई पड़ती है।  ठंड, गीला मौसम, मिट्टी में उच्च नमी और एक ही फसल की लगातार खेती इस बीमारी के लिए अनूकूल होती है। इसके लिए जरूरी है की किसान हमेशा अपने गन्ने की फसल में लगने वाले इस लाल सड़न रोग के प्रति जागरूक रहें।  अगर उनके फसल में इसका प्रकोप दिखाई पड़ता है तो तुरंत इसे खत्म करने का प्रयास करें।

 लाल सड़न रोग के प्रमुख लक्षण 

  1.  इस रोग से ग्रसित गन्ने की तीसरी और चौथी पत्तियां पीली हो कर सूखने लगती हैं। जिसके बाद से यह पुरे फसल में फैलनें लगता है।
  2.  कृषि एक्सपर्ट कि मानें तो गन्ने की गांठो तथा छिलकों पर एक तरह के फफूंद के बीजाणु विकसित होने लगते हैं।
  3.  इस रोग से ग्रसित गन्ने के अंदर का भाग लाल रंग से सफ़ेद रंग के धब्बे के रूप में बनने लगता है।
  4.  गन्ने का गुदा इस रोग के कारण लाल और भूरे रंग के फफूंद से भर जाता है।
  5.  कुछ समय के बाद जब गन्ने का पौधा सूखने लगता है तो इसमें से अल्कोहल जैसी गंध आती है।

 लाल सड़न रोग का रोकथाम 

  •  इस तरह के रोगों से फसल को बचानें के लिए हमें रोग मुक्त , स्वस्थ बीजों का चुनाव करना चाहिए।
  •  अगर बीज में टुकड़े की आंखों के दोनों तरफ लाली हो तो इस बीज का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

आप GEEKEN CHEMICALS के द्वारा बना कैमिकल प्रयोग कर सकते है। भारतवर्ष के किसान पिछले कई सालों से अपना भरोसा  Geeken Chemicals  पर जता रहें है।

और पढ़े-: कैसे खत्म करें गन्ने की फसल से सफ़ेद गिडार रोग

 करें इन रासयनिक कवकनाशी कैमिकल्स  का प्रयोगCarbendazim 50% WP

दोस्तों , अगर आपके फसल में भी इस तरह के रोग है तो आप GEEKEN CHEMICALS से बना कीटनाशक Kenzim (Carbendazim 50% WP) का प्रयोग कर सकते है। यह एक व्यापक तरह का कवकनाशी है जो फसल के रोगों को बहुत जल्द खत्म करता है।  इसका उपयोग आप सब्जितों के लिए भीCaptan 70%   Hexaconazole 5% WP कर सकते है।

इसके साथ – साथ आप हमारा दूसरा कवकनाशी Ribban (Captan 70% Hexaconazole 5% WP) का प्रयोग कर सकते है।  यह आपके फसल और सब्जियों में लगने वाले कीटों को बहुत कम समय में खत्म करते है।  इसे खरीदने के लिए आप अपने नजदीकी स्टोर पर जा सकते है।

 निष्कर्ष 

किसान भाइयों को यहाँ गन्ने की फसल में लगने वाले लाल सड़न रोग की जानकारी दी गयी है।  आशा है यह जानकारी आपको अच्छी लगी होगी।  आप अपने कृषि से सम्बंधित अन्य जानकारी के लिए (https://geekenchemicals.com/ ) पर भी जा सकते है।  आपको GEEKEN CHEMICALS से जुड़े किसी अन्य प्रोडेक्ट की जानकरी चाहिए तो आप हमें (+91 9999570297) कॉल भी कर सकते है।  भारत के अलग – अलग राज्यों में हमारा स्टोर बना हुआ है जहाँ आप आसानी से जीकेन केमिकल्स के द्वारा बना कीटनाशक खरीद सकते है।  आपको हमारे द्वारा दी हुई यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करे और कमेंट के माध्यम से अपने सवाल अवश्य पूछे।